Sunday, March 3, 2024
HomeSad ShayariBest 777+ Judai Shayari in Hindi With Images | जुदाई शायरी

Best 777+ Judai Shayari in Hindi With Images | जुदाई शायरी

Judai Shayari in Hindi (जुदाई शायरी) : मिलना और बिछड़ना तो जिंदगी में लगा रहता है लेकिन जॉब आप किसी से बहुत ज्यादा प्यार करते हो और वह इंसान आपसे एक दिन किसी करना वाद दूर चला जाये या ये कहे आपसे बिछड़ जाये तो आपके दिल पर क्या गुजरती होगी ये हम अच्छी तरह से समझ सकते हैं । ऐसे में हर कोई गूगल में जुदाई शायरी ढूँढता जो हम आपके लिए इस में लाये हैं Judai Shayari in Hindi, Judai Shayari Image, अपनों से बिछड़ने की शायरी, जुदाई शायरी आदि जो आपको बहुत पसंद आने वाली है

किसी से जुदा होना इतना आसान होता तो !!
जिस्म से रूह को लेने फरिश्ते नहीं आते !!

बहुत कुछ बदल गया मेरी ज़िंदगी में !!
एक तेरे आने के बाद फिर जाने के बाद !!

इतना खुश होकर अब रोना नहीं चाहते !!
ये आलम है हमारा आप की जुदाई में !!

दिल से निकली ही नहीं शाम जुदाई वाली !!
तुम तो कहते थे बुरा वक़्त गुज़र जाता है !!

जुदा हुए हैं बहुत से लोग एक तुम भी सही !!
अब इतनी सी बात पे क्या जिंदगी हैरान करें !!

जुदा भी हो के वो एक पल कभी जुदा न हुआ !!
ये और बात है कि देखे उसे ज़माना हुआ !!

judai shayari,
judai shayari in hindi,
dard bhari judai shayari,
judai shayari urdu,
dard e judai shayari,
judai ki shayari,
judai shayari 2 line,
shayari judai,
judai sad shayari,
judai shayari in english,
love judai shayari,
judai wali shayari,
sad judai shayari,
judai shayari gujarati,
beti ki judai par shayari,
dard e judai shayari in hindi,
dard e judai shayari in urdu,
judai status,
judai status in hindi,
new sad shayari,
very sad shayari,
Judai Shayari With Image,
sad shayari in hindi,

अब जुदाई के सफफर को मेरे आसान करो !!
तुम मुझे ख़्वाब में आकर न परेशान करो !!

तेरी जुदाई भी हमें प्यार करती है !!
तेरी याद बहुत बेकरार करती है !!

दिल से निकली ही नहीं शाम जुदाई वाली !!
तुम तो कहते थे बुरा वक्त गुजर जाता है !!

अब जुदाई के सफ़र को मिरे आसान करो !!
तुम मुझे ख़्वाब में आ कर न परेशान करो !!

बदन में जैसे लहू ताज़ियाना हो गया है !!
उसे गले से लगाए ज़माना हो गया है !!

वो आ रहे हैं वो आते हैं आ रहे होंगे !!
शब-ए-फ़िराक़ ये कह कर गुज़ार दी हम ने !!

जिस की आँखों में कटी थीं सदियाँ
उस ने सदियों की जुदाई दी है

कितनी लम्बी ख़ामोशी से गुज़रा हूँ
उन से कितना कुछ कहने की कोशिश की

मिलना था इत्तिफ़ाक़ बिछड़ना नसीब था !!
वो उतनी दूर हो गया जितना क़रीब था !!

इसे भी पढ़े:- Miss you Shayari in Hindi | मिस यू शायरी हिंदी में

RELATED ARTICLES

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments